कांग्रेस पर बहुत ज्यादा हमलावर हो रहे केजरीवाल, मान रहे अभी बीजेपी ही देश की एकमात्र मजबूत पार्टी, धीरे धीरे फैला रहे अपनी जड़ें

कांग्रेस पर बहुत ज्यादा हमलावर हो रहे केजरीवाल, मान रहे अभी बीजेपी ही देश की एकमात्र मजबूत पार्टी, धीरे धीरे फैला रहे अपनी जड़ें
0 0
Read Time:5 Minute, 39 Second

कांग्रेस पर बहुत ज्यादा हमलावर हो रहे केजरीवाल, मान रहे अभी बीजेपी ही देश की एकमात्र मजबूत पार्टी, धीरे धीरे फैला रहे अपनी जड़ें

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले कुछ घटने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे लेकर अब प्रचार और प्रसार तेज कर दिया है। बीते दिनों उन्होंने कई टीवी चैनलों को कोरोना से निपटने के काम को दिल्ली मॉडल का नाम देते हुए कई घंटों के इंटरव्यू दिए हैं।

इन इंटरव्यू में अरविंद केजरीवाल यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि कांग्रेस खत्म हो गई है और जहां जहां उसकी सरकार बन भी रही है तो उसके विधायक बिक रहे हैं और भाजपा में जा रहे हैं। वे कहते हैं कि कांग्रेस पार्टी अपने विधायकों को संभाल कर नहीं रख पा रही है।

राजस्थान में कुछ दिन पहले विधायकों के होटल में जाकर छिपने के मुद्दे को लेकर भी वह भाजपा को सीधे नहीं कोस रहे है और कांग्रेस को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा रही है। केजरीवाल का कहना है कि जब चीन भारत के दरवाजे पर आ गया और कोरोना वायरस पूरे देश में फैल रहा था तब राजस्थान में कांग्रेस के विधायक बिक रहे थे और दूसरी पार्टी उसे खरीद रही थी।

केजरीवाल का कहना है कि इस समय विपक्ष की जगह खाली पड़ी हुई है और इस वजह से ही भाजपा सत्ता में बनी हुई है और मजबूत पार्टी मानी जाती है।

लेकिन वह इस समय इस बात को भलीभांति जानते हैं कि पूरे देश में वह भाजपा के विकल्प नहीं है और धीरे-धीरे ही अपने पांव फैलाने की सोच रहे हैं। उन्होंने हाल में उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में सभी सीटों पर चुनाव लड़ने को लेकर अपनी मंशा जाहिर की है लेकिन भले उत्तराखंड में बीजेपी की सरकार हो लेकिन उनका निशाना वहां कांग्रेस ही है और उसके स्पेस को ही जैसा कि उसने दिल्ली में किया था उसे खाने की कोशिश कर रहे है।

राहुल गांधी की तरह मोदी सरकार पर आक्रमक नहीं

कोरोना वायरस और चीन की दखलअंदाजी के मुद्दे पर जिस तरह से राहुल गांधी ने ऑनलाइन प्रचार के जरिए मोदी सरकार पर आक्रमक रुख जारी रखा है। इसके ठीक उलट केजरीवाल बहुत संयम तरीके से बच बच कर मोदी सरकार की भूमिका को लेकर बात कर रहे हैं।

चीन के मुद्दे पर वह साफ कह देते हैं कि इस मुद्दे पर अभी कमी निकालने का वक्त नहीं है। अभी कांग्रेस, भाजपा और आम आदमी पार्टी की बात नहीं बल्कि देश की बात है इसलिए हमें एकजुट होकर चीन से हमला करना होगा और उन्हें उम्मीद है कि केंद्र सरकार चीन को जवाब देगी।

देश की राष्ट्रीय राजनीति का विकल्प बनने के मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल कहते हैं कि उन्होंने अपने लोगों को राज्य भर में लगा रखा है और वह लोगों से राय मांग रहे हैं जैसा कि उत्तराखंड में भी लोगों के बीच सर्वे करने के बाद ही पार्टी ने वहां जाने के बारे में सोचा है। लेकिन उत्तर प्रदेश योगी सरकार के खिलाफ भी वह खुलकर बोलने से बच रहे हैं।

भाजपा के खिलाफ कांग्रेस की जगह खुद को राष्ट्रीय विकल्प बनाने और बाकी के राज्यों जैसे यूपी बिहार में चुनाव लड़ने आदि के व्यापक प्रश्न को लेकर केजरीवाल कहते हैं की जनता को भी आगे आना पड़ेगा, जनता को ही तय करना पड़ेगा कि उसको किसके साथ रहना है। साफ है कि केजरीवाल अभी आज की स्थिति में तो यह बिल्कुल मानकर नहीं चल रहे हैं कि वह भाजपा और नरेन्द्र मोदी को टक्कर देने की हैसियत रखते हैं इसलिए बहुत बच बच कर सावधानी से हर बात कह रहे हैं लेकिन अपने काम को लोकप्रिय बनाने का कोई भी मौका वहां से जाने नहीं दे रहे हैं।

वह अब मोदी सरकार बीजेपी की कमियां गिनाने की बजाए अपने काम की गिनती गिनाने में ज्यादा विश्वास रखते हैं दिल्ली में शिक्षा स्वास्थ्य आदि मुद्दों पर अपने काम को लेकर वह देशभर में एक दिल्ली मॉडल स्थापित करने के लिए धीरे-धीरे अभियान चला रहे हैं और पहले की गलतियों से सबक लेते हुए छोटे राज्यों में खुद को खड़ा करने के बारे में सोच रहे हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles