केदारनाथ धाम में चल रहे पुर्ननिर्माण का निरीक्षण

 केदारनाथ धाम में चल रहे पुर्ननिर्माण का निरीक्षण
0 0
Read Time:4 Minute, 42 Second

करने के लए प्रदेश के मुख्य सचिव ओमप्रकाश एपर्यटन सचिव दिलीप जावलकर व जिलाधिकारी वंदना सिंह केदारनाथ धाम पहॅूचे।
मुख्य सचिव ने निर्माणाधीन पुनर्निर्माण कार्य शंकराचार्य समाधिए दिव्यशिला से समाधि तक पैसेज मार्गए एम आई 26 हेलीपैडए सरस्वती व मन्दाकिनी घाट आदि का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य सचिव ने कार्यदायी संस्थाओं को कार्य मे प्रगति लाने व गुणवत्ता परक कार्य कराने के निर्देश दिए। कहा कि हर हाल में तय समय सीमा के भीतर पुनर्निर्माण कार्य पूर्ण किया जाय।  शंकराचार्य समाधि में चहारदीवारी व मंडल वाल का निर्माण किया जाना है। चहारदीवारी 12 मीटर व मंडल वाल 03 मीटर की बनाई जानी है जिसमे से चाहरदीवारी की वाल 1ए2 व 4 पर 1डेढ़ मीटर की दीवार का निर्माण कार्य पूर्ण  व वाल 3 पर सरिया व कंक्रीट का कार्य चल रहा है। दिव्यशिला से समाधि तक 48 ×3ण्6 मीटर का पैसेज बनाया जाना है जिस पर राफ्ट का कार्य पूर्ण हो चुका है व कंक्रीट का कार्य प्रगति पर है। इस संबंध में मुख्य सचिव ने कार्यदायी संस्था केे मुख्य वर्करो को कहा कि  31 दिसम्बर तक शंकराचार्य समाधि व पैसेज को हर हाल में निर्माण कार्य  पूर्ण करने के निर्देश दिए।
सरस्वती नदी पर 504×5 मीटर का आस्था पथ का निर्माण कार्य पूर्ण चुका है व घाट के लिए स्टेप भी बन चुके है। घाट को जाने वाले स्टेप पर सौंदर्यीकरण हेतु लाइटनिंग का कार्य किया जाना है। घाट के आस पास 05 व्यू पॉइंट बनाये जाने है जिसमे से 03 व्यू पॉइंट पर कार्य पूर्ण किया जा चुका है। इस सम्बंध में मुख्य सचिव ने जेएसडब्ब्ल्यू को सितम्बर माह का अंत तक शेष 02 व्यू पॉइंट का निर्माण करने व अक्टूबर तक घाट सौंदर्यीकरण का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।
एम आई 26 हेलिपैड पर क्षतिग्रस्त गढ़वाल मंडल विकास निगम के 03 कॉटेज को 10 दिन के भीतर हटाने के निर्देश मुख्य सचिव ने लोनिवि के अधीक्षण अभियंता मुकेश परमार को  दिए। एम आई 26 वर्तमान में 50×40 आकार का है जिसका विस्तारीकरण  चिनूक हेलीकाप्टर हेतु 50×100 का किया जाना है।
डीडीएमऐ  द्वारा गरुड़चट्टी के लिए पुल का निर्माण कार्य  किया जा रहा है जिसमें से केदारपुरी की तरफ के अबटमेंट का कार्य पूर्ण हो चुका है व 1एक सप्ताह के भीतर दूसरी ओर के अबटमेंट का कार्य पूर्ण हो जाएगा। सीएस ने अधिशासी अभियंता डीडीएमऐ प्रवीण कर्णवाल को 31 दिसम्बर तक पुल निर्माण कार्य हर हाल में पूर्ण करने के निर्देश दिए। जिंदल ग्रुप द्वारा तीर्थ पुरोहितों के 05 भवन निर्माण किये जाने थे जिसमें से 02 भवनों को पूर्ण कर जिला प्रशासन को सौप दिए गए है। अवशेष तीन भवनों को क्रमशः 15 सितम्बरए 30 सितम्बर व 15 अक्टूबर तक पूर्ण कर जिला प्रशासन को सौंपने के निर्देश मुख्य सचिव में दिए। साथ ही ध्यान गुफा के लंबित कार्यों को भी तय समय के भीतर पूर्ण करने के निर्देश दिए।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles