चुनाव आयुक्त अशोक लवासा का इस्तीफा, एडीबी में शामिल होने के लिए तैयार, 2019 लोकसभा चुनाव में मोदी और शाह को क्लीन चिट फैसले से थे असहमत

0 0
Read Time:3 Minute, 30 Second

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा का इस्तीफा, एडीबी में शामिल होने के लिए तैयार, 2019 लोकसभा चुनाव में मोदी और शाह को क्लीन चिट फैसले से थे असहमत

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अब अशोक लवासा एशियाई विकास बैंक (एडीबी) में उपाध्यक्ष पद को संभालेंगे। वह एडीबी में दिवाकर गुप्ता का स्थान लेंगे। दिवाकर गुप्ता का कार्यकाल 31 अगस्त को समाप्त होने वाला है। लवासा को जनवरी 2018 में चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया था.

निर्वाचन आयोग के इतिहास में अशोक लवासा दूसरे ऐसे आयुक्त होंगे जिन्हें कार्यकाल पूरा करने से पहले ही इस्तीफा देकर जाना पड़ रहा है। लवासा से पहले 1973 में मुख्य निर्वाचन आयुक्त नागेन्द्र सिंह ने तब इस्तीफा दिया था जब उनको अंतरराष्ट्रीय न्यायिक अदालत में जज बनाया गया था।

अगर सब कुछ सही रहता तो अशोक लवासा अप्रैल 2021 में मुख्य निर्वाचन आयुक्त बनते और 2022 अक्टूबर तक यूपी, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में विधानसभा चुनाव कराते।

उनका इस्तीफा यदि स्वीकार किया जाता है, तो अप्रैल 2021 में सुशील चंद्रा के सीईसी बनने का रास्ता साफ कर देगा। मौजूदा सीईसी सुनील अरोड़ा 2021 में रिटायर होंगे।

पिछले महीने, ADB ने निजी क्षेत्र के संचालन और सार्वजनिक-निजी भागीदारी के लिए लवासा को उपाध्यक्ष नियुक्त किया। वह दिवाकर गुप्ता का स्थान लेंगे, जिनका कार्यकाल 31 अगस्त को समाप्त होगा। सूत्रों ने कहा कि सरकार ने एडीबी को कुछ नामांकित लोगों की सिफारिश की थी, जिसमें लवासा भी शामिल है।

लोकसभा चुनाव के बाद से विवाद

लवासा और उनका परिवार पिछले साल लोकसभा चुनावों के बाद से सुर्खियों में रहा। लवासा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को लेकर चुनाव आचार संहिताओं के उल्लंघन के सम्बन्ध में आयोग की क्लीन चिट के फैसले पर अकेले लिखित रूप से असहमति जताई थी।

इसके बाद के महीनों में लावासा की पत्नी नोवेल और बेटे अबीर के खिलाफ आयकर नोटिसों की बौछार देखने को मिली।

1980 बैच के IAS अधिकारी लवासा का आयोग में दो साल का कार्यकाल बचा था। उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड, पंजाब, मणिपुर और गोवा जैसे राज्यों में चुनावों की देखरेख के बाद वह अक्टूबर 2022 में सेवानिवृत्त हो जाते।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles