क्या थी धोनी की ख़ासितयतें…

क्या थी धोनी की ख़ासितयतें…
0 0
Read Time:4 Minute, 19 Second

महेंद्र सिंह धोनी ना सिर्फ सबसे सफल कप्तान रहें, बल्कि भारतीय टीम को वो एक नई ऊंचाई तक ले गए। जिस टीम में खिलाड़ियों का नाम नहीं बल्कि उनका फिट रहना और उनका एटिट्यूट ज्य़ादा बड़ा था। खुद धोनी भी कप्तान रहते हुए भी हमेशा मैच जिताने की जुगत में ही लगे दिखते थे। उनके साथ ना जाने कितने ऐसे किस्से थे। जोकि समय समय पर सामने आते रहे। लेकिन कुछ ख़ास बातें उनकी हम बताते हैं।

लंबे बाल
जब धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पर्दापण किया था तो उनके बाल बेहद लंबे थे। विकेट के पीछे वो अक्सर अपने बालों को ठीक करते हुए भी दिखते थे। कुछ समय तो लोगों में धोनी के बालों का क्रेज भी हो चला था। उनके खेलने के अंदाज के साथ साथ जैसे जैसे उनकी ख्याति बढ़ने लगी थी उनके लंबे बालों को पंसद करने वालों की संख्या भी ख़ासी होने लगी थी। लेकिन एक दिन अचानक धोनी ने अपने लंबे बालों को कटवा दिया और वो दिन था। भारत का वर्ल्ड कप जीतने वाला दिन। वो दिन जब सचिन तेंदुलकर को पूरी टीम ने कंधों पर उठाकर स्टेडियम का चक्कर लगाया था। कप जीतने तक को धोनी के बाल लंबे थे। लेकिन अगले ही दिन धोनी के बाल कट चुके थे। लोग अंदाजा लगाते हैं कि धोनी ने वर्ल्ड कप जीतने की मन्नत मांगी होगी। तभी तो कप जीतने के तुरंत बाद उन्होंने अपने बाल कटवा दिए।

हेलिकॉप्टर शॉट
धोनी का एक शॉट ऐसा था जो पूरी दुनिया में हेलिकॉप्टर शॉट के नाम से मशहूर था। क्रिकेट में कुछ ऐसे शॉट हैं जोकि कुछ खिलाड़ी ही खेल पाते हैं। धोनी के पास ऐसा ही हेलिकॉप्टर शॉट था। इस शॉट से कई बार वो गेंदबाज को आर्श्चयचकित कर देते थे और इस शॉट से चौका या छक्का जड़ देते थे। उनके इस शॉट को लेकर तो खुद देश के गृह मंत्री अमित शाह ने भी कहा कि इस शॉट की कमी दुनिया को खलेगी।

छक्कों का रिकॉर्ड
महेंद्र सिंह धोनी दुनिया में ऐसे इकलौते खिलाड़ी हैं जिन्होंने विश्वकप छक्का लगाकर जितवाया था। वैसे तो धोनी मैच विनर थे। लेकिन आखिरी वक्त में मैच जितवाने के लिए उनके छक्के हमेशा याद आते रहेंगे। विश्व कप 2011 का फाइनल तो आपको याद ही होगा। जब उन्होंने छक्का मारकर उन्होंने ये कप भारत की झोली में डाल दिया था। धोनी ने वनडे में 9 बार छक्का मारकर के मैच जिताया है। जो एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इसी कारण से उन्हें दुनिया का बेस्ट फिनिशर भी कहा जाता है।

सातवें क्रम में बल्लेबाज़ी करते हुए दो शतक
अपने खेल के शुरुआती दिनों में धोनी ऊपरी क्रम में बैटिंग करते थे, लेकिन जब से कप्तान बने उसके बाद से वे निचले क्रम में खेलने लगे। 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए धोनी के नाम सबसे ज्यादा वनडे शतक लगाने का रिकॉर्ड है। जोकि अभी तक कोई तोड़ नहीं पाया है। उन्होंने सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए दो बार शतक लगाए हैं। एक बार 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ और दूसरा एशिया इलेवन की ओर से अफ्रीका इलेवन के खिलाफ भी उन्होंने शतक लगाया था।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles