#ActiveCase: कोरोना के एक्टिव मामलों में अचानक हुई बढ़ोतरी

0 0
Read Time:4 Minute, 20 Second

#CoronaUpdate: कोरोना ने अब देश में ज्य़ादा ख़तरनाक रूप में सामने आ रहा है। पहले जहां कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने का सिलसिला भी संक्रमितों के बराबर था। लेकिन पिछले 15 दिनों से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या संक्रमितों के मुकाबले आधी ही है। इससे अचानक देश में एक्टिव केस बढ़ गए हैं। पिछले 15 दिनों में ही कोरोना एक्टिव केस 1.80 लाख से बढ़कर 3.65 लाख हो गए हैं। इससे स्वास्थ्य सेवाओं पर दबाव आ गया है। बीते 24 घंटे में ही कोरोना 47,239 मरीज मिले हैं, जबकि 23,913 ठीक हुए। यह लगातार पांचवां दिन था, जब नए केस 40 हजार से ज्यादा रहे। बीते 24 घंटों में हुई 277 मौत भी इस साल में सबसे ज्य़ादा है। इस बीच केंद्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगी रोक को 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है।

देश में अब तक 1 करोड़ 17 लाख 33 हजार 594 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 1 करोड़ 12 लाख 3 हजार 16 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 1.60 लाख ने जान गंवाई है। जबकि 3.65 लाख का इलाज चल रहा है।

राज्यों ने की सख्ती

कोरोना के विकराल रूप को देखते हुए राज्यों ने एक बार फिर सख्ती करनी शुरू कर दी है। देश की राजधानी दिल्ली में एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर रैंडम टेस्टिंग शुरू कर दी है। वहीं मध्यप्रदेश रविवार को लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रहा है।

दिल्ली सरकार ने कहा है कि सभी हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, अंतरराज्यीय बस टर्मिनलों पर अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों की रैंडम टेस्टिंग (RAT / RT-PCR) की जाएगी। साथ ही, दिल्‍ली में सार्वजनिक स्थानों पर होली, शब-ए-बारात और नवरात्रि मनाने पर रोक लगा दी गई है।

उधर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि, ‘भोपाल और इंदौर में हर दिन 300 से 400 केस आ रहे हैं। अगर इनमें इसी तरह बढ़ोतरी होती रही तो हम पुरानी स्थिति में पहुंच जाएंगे। मैं लोगों से हाथ जोड़कर अपील करता हूं कि वे कोरोना गाइडलाइन का पालन करें।’

उत्तर प्रदेश में होली से पहले राज्य सरकार ने कुछ निर्देश जारी किए हैं। इनमें बिना पूर्व अनुमति के कोई जुलूस नहीं निकाल सकता है। 60 वर्ष से अधिक और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को किसी भी प्रकार के उत्सव में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर गृह मंत्रालय ने प्रभावी नियंत्रण के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है। यह 1 अप्रैल से प्रभावी होगा और 30 अप्रैल 2021 तक लागू रहेगा। इसमें सभी राज्यों से टेस्ट, ट्रैकिंग और ट्रीट प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया गया है।

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीनेशन को लेकर बड़ी खबर आ रही है। एक अप्रैल से 45 साल और इससे ऊपर के सभी लोग कोरोना वैक्सीन लगवा सकेंगे। केंद्र सरकार ने मंगलवार को यह फैसला लिया। अब तक 45 से 60 साल के बीच सिर्फ गंभीर बीमारियों वाले लोगों को ही वैक्सीन दी जा रही थी।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.