भारत – चीन में अब फिर दोस्ती बहुत मुश्किल बातचीत के बावजूद कई मुद्दों पर अड़ियल रुख

भारत – चीन में अब फिर दोस्ती बहुत मुश्किल बातचीत के बावजूद कई मुद्दों पर अड़ियल रुख
0 0
Read Time:3 Minute, 0 Second

 

भारत और चीन के बीच मॉस्को द्विपक्षीय वार्ता में शांति फार्मूला तो निकाला गया है, लेकिन यह कितना कारगर साबित होगा। यह कहना बहुत मुश्किल है। दोनों देशों के बीच हुई बातचीत के समय मौजूद रहने वाले जानकारों का कहना है कि गलवान हिंसा के बाद दोनों देशों के बीच भरोसे को लेकर गंभीर संकट है।

चीन पर अब दोबारा भरोसा नहीं

गलवान् हिंसा के बाद भी विभिन्न स्तरों पर बातचीत में जो सहमति बनी चीन ने उसका पालन नही किया। चीन पैंगोंग पर अपने नए दावे को जायज ठहराने में जुटा है। जबकि भारत का स्पष्ट मानना है कि नई पोजिशन स्वीकार्य नही है।

चीन हटने को तैयार नहीं

पैंगोंग सहित अलग अलग इलाकों में चीन को अपनी आक्रामक नीति छोड़कर मई की पूर्व की स्थिति में जाना होगा। ये प्रक्रिया बहुत आसान नही है। दोनो देशो के बीच 17 जून को विदेशमंत्री स्तर की बातचीत और 5 जुलाई को विशेष प्रतिनिधि स्तर की वार्ता में भी मतभेद को विवाद न बनने देने और सेनाओं की चरणबद्ध वापसी पर सहमति बनी थी। लेकिन चीन ने इसे मानने के बजाय नए मोर्चा खोल दिया। उनकी तरफ से सैनिकों का जमावड़ा भी बढ़ा दिया गया। इसकी वजह से तनाव बढ़ा।

भारत भी नहीं हटेगा पीछे

पूर्व विदेश सचिव शशांक का कहना है कि चीनी सेना का एलएसी पर व्यवहार लगातार आक्रामक है। इसे बदले बिना भारत के लिए अपनी सेनाओं को पीछे लौटा पाना मुमकिन नही होगा।

जमीनी हालात से तय होगा भविष्य

पूर्व विदेश सचिव शशांक ने कहा कि मॉस्को की बातचीत के बाद हमें कुछ दिन तक जमीनी हालात पर नजर रखनी होगी। क्योंकि अभी तक जितनी भी बार सहमति बनी है चीन ने ग्राउंड पर उसका उल्टा किया है। उनका मूवमेंट इस तरह का है कि लगता है कि वे काफी दूर की तैयारी कर रहे हैं। हमे सतर्क रहना होगा कि चीन बातचीत के बहाने केवल समय जाया कर अपनी तैयारी न बढ़ाये। अगर कमांडर लेवल पर ये सुनिश्चित होता है कि सेना विवादित जगहों से हटकर पुरानी चिन्हित जगहों पर जाती हैं तो बात आगे बढ़ सकती है। वरना ये वार्ता भी विफल हो जाएगी।

——

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles