राफेल की सुरक्षा हुई पुख्ता, अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के चार किमी का दायर नॉन फ्लाइंग जोन घोषित

राफेल की सुरक्षा हुई पुख्ता, अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के चार किमी का दायर नॉन फ्लाइंग जोन घोषित
0 0
Read Time:2 Minute, 33 Second

राफेल की सुरक्षा हुई पुख्ता, अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के चार किमी का दायर नॉन फ्लाइंग जोन घोषित
अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के साथ लगते चार किलोमीटर इलाके में सुरक्षात्मक दृष्टि से पालतू कबूतरों के उड़ाने पर पाबंदी लगा दी गई है। डीसी अशोक कुमार शर्मा ने अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्हें इस विषय को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बताया कि इस एरिया को नॉन फ्लाइंग जोन घोषित किया हुआ है। उन्होंने शहर व छावनी के एसडीएम को निर्देश दिए कि वे इस गतिविधि पर नजर रखें और एयरफोर्स अथॉरिटी के साथ बेहतर तालमेल रखें। बता दें कि तीन दिन पहले एयरमार्शल ने चीफ सेक्रेटरी हरियाणा को पत्र लिखकर राफेल को कबूतरों से खतरा बताया था। इसके बाद डीसी ने अब यह कदम उठाए हैं।

इससे पहले एयर मार्शल के पत्र के मुताबिक, ‘अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के ऊपर और आसपास भारी संख्या में पक्षी हैं। कभी टक्कर हुई तो इससे राफेल को काफी नुकसान पहुंच सकता है। एयरफील्ड के ऊपर पक्षियों के रहने के पीछे आसपास पड़ा कूड़ा जिम्मेदार है’। पत्र में बताया गया है कि अंबाला स्टेशन के एयर ऑफिसर ने अंबाला के नगर निगम आयुक्त से भी इस बारे में बात की है, मगर अभी तक उचित कार्रवाई नहीं हो पाई है।
एयर मार्शल की ओर से हरियाणा सरकार को लिखे गए पत्र में कूड़े को हटाने के तरीके के बारे में भी सुझाव दिए गए हैं। कहा गया है कि सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का पालन होना चाहिए। छोटे और बड़े दोनों तरीके के पक्षियों को एयरफील्ड से दूर रखना जरूरी है। ब्लैक काइट (चील जैसे) पक्षियों को लेकर सबसे ज्यादा चिंता बनी हुई है। अंबाला एयरबेस के कम से कम 10 किलोमीटर तक के एरिया में ऐसे पक्षी नहीं होने चाहिए




Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles