Corona: रुद्रप्रयाग जिले में बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या…

Corona: रुद्रप्रयाग जिले में बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या…
0 0
Read Time:11 Minute, 55 Second

रुद्रप्रयाग जिले में बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या, क्षेत्रों को कन्टेनेंट जोन में किया घोषित
अगस्त्यमुनि स्वास्थ्य केन्द्र में कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव आने पर केन्द्र को किया किया गया बंद
सिल्ली में परिवार के चार सदस्य कोरोना पाॅजिटिव आने परे घर में रहने की सलाह
सुमाड़ी कस्बे में पाए गए नौ व्यक्ति संक्रमित
एआरटीओ आफिस में मिला कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव
आर्मी केंट में आर्मी जवानों के कोरोना पाॅजीटिव आने पर देहरादून में चल रहा ईलाज
रुद्रप्रयाग। रुद्रप्रयाग जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिले के अगस्त्यमुनि स्वास्थ्य केन्द्र में कर्मचारी के कोरोना पाॅजिटिव आने पर केन्द्र को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है, जबकि सुमाड़ी में नौ और सिल्ली में चार परिवार के सदस्य कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। यहां पर प्रशासन की ओर से कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया है और लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गयी है। इसके अलावा मराठा बटालियन के 38 जवानों के कोरोना पाॅजिटिव आने के बाद उनका ईलाज आर्मी अस्पताल देहरादून में चल रहा है, जबकि जिला मुख्यालय के गुलाबराय स्थित एआरटीओ विभाग में भी कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव मिला है।
बता दें कि कोरोना महामारी को लेकर जिला प्रशासन सतर्कता बरते हुए है, बावजूद इसके जिले में कोरोना पाॅजिटिव के केसों में बढ़ोत्तरी हो रही है। ज्यादा गंभीर मामलों में प्रशासन की ओर से मरीज को श्रीनगर रेफर किया जा रहा है, जबकि सामान्य मरीजों का ईलाज जिले के कोटेश्वर में चल रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अगस्त्यमुनि में एक कर्मचारी के कोरोना पाॅजिटिव आने से अस्पताल में हड़कम्प मच गया। कर्मचारी को रूद्रप्रयाग आइसोलेशन में भेज दिया गया हैं, जबकि अन्य सभी कर्मचारियों की कोरोना जांच के लिए सैम्पलिंग की गई है तथा उन्हें रिपोर्ट आने तक होम क्वारनटाइन में रहने को कहा गया है। अस्पताल को पूर्ण रूप से सेनिटाइज किया जा रहा है तथा एहतियात के लिए अस्पताल को दो दिनों के लिए बन्द कर दिया गया है। अस्पताल में ओपीडी के साथ ही अन्य सेवायें बन्द रहेंगी।
वहीं सिल्ली बाजार स्थित एक शिक्षक की तबियत खराब होने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अगस्तयमुनि में चेकअप के लिए लाया गया था, जिसका एन्टीजेन पाॅजिटिव आने के बाद शिक्षक को रूद्रप्रयाग आइसोलशन में भेज दिया गया। वहीं शिक्षक के परिजनों के साथ ही सिल्ली की जनता के भी कोविड 19 सैम्पल लिए गये। जिसमें शिक्षक की पत्नी, पुत्र एवं पुत्री भी पाॅजिटिव आये हैं, जिन्हें भी रुद्रप्रयाग आइसोलेेशन में ले जाया गया। जहां स्वास्थ्य में सुधार आने के बाद शिक्षक एवं परिजनों को होम आइसोलेशन में सिल्ली में ही अपने घर पर रखा गया है। जिसके बाद प्रशासन ने सिल्ली में शिक्षक के घर के चारों ओर के मकानों को मिनी कन्टेनमेण्ट जोन घोषित करते हुए उनमें रहने वाले परिवारों को घर में ही रहने की सलाह दी है। इधर, तहसील जखोली के अंतर्गत सुमाडी कस्बे में नौ व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में प्रशासन द्वारा इस क्षेत्र को मिनी कंटेन्मेंट क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। इसके साथ ही यहां पर आवागमन को भी पूरी तरह से प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया गया है। वहीं जिलाधिकारी वंदना सिंह ने कहा कि नगर पालिका रुद्रप्रयाग के वार्डो में एहतियात के तौर पर सैम्पलिंग लेने पर कोरोना पाॅजीटिव के केस मिले हैं। इसके साथ ही आर्मी केंट में भी केस मिले हैं। अगस्त्यमुनि क्षेत्र में भी लगातार सैम्पलिंग लिए जा रहे हैं और यहां पर कन्टेनमेन जोन घोषित किया गया है और जो लोग पाॅजिटिव आये हैं उन्हें घर में रहने की सलाह दी गई है। जिले में चरणबद्ध तरीके से टेस्ट किये जा रहे हैं। वर्तमान में 141 केस रिलीफ किये गये हैं और 38 केस आर्मी के आए थे। जिनका ट्रीटमेंट आर्मी अस्पताल देहरादून में चल रहा है। सामान्य स्थिति वाले मरीजों को कोटेश्वर में रखा गया है, जबकि गंभीर मामलों में तीन केस श्रीनगर को रेफर किये गये हैं।

रुद्रप्रयाग जिले में बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या, क्षेत्रों को कन्टेनेंट जोन में किया घोषित
अगस्त्यमुनि स्वास्थ्य केन्द्र में कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव आने पर केन्द्र को किया किया गया बंद
सिल्ली में परिवार के चार सदस्य कोरोना पाॅजिटिव आने परे घर में रहने की सलाह
सुमाड़ी कस्बे में पाए गए नौ व्यक्ति संक्रमित
एआरटीओ आफिस में मिला कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव
आर्मी केंट में आर्मी जवानों के कोरोना पाॅजीटिव आने पर देहरादून में चल रहा ईलाज
रुद्रप्रयाग। रुद्रप्रयाग जिले में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिले के अगस्त्यमुनि स्वास्थ्य केन्द्र में कर्मचारी के कोरोना पाॅजिटिव आने पर केन्द्र को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है, जबकि सुमाड़ी में नौ और सिल्ली में चार परिवार के सदस्य कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। यहां पर प्रशासन की ओर से कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया है और लोगों को घरों में रहने की सलाह दी गयी है। इसके अलावा मराठा बटालियन के 38 जवानों के कोरोना पाॅजिटिव आने के बाद उनका ईलाज आर्मी अस्पताल देहरादून में चल रहा है, जबकि जिला मुख्यालय के गुलाबराय स्थित एआरटीओ विभाग में भी कर्मचारी कोरोना पाॅजिटिव मिला है।
बता दें कि कोरोना महामारी को लेकर जिला प्रशासन सतर्कता बरते हुए है, बावजूद इसके जिले में कोरोना पाॅजिटिव के केसों में बढ़ोत्तरी हो रही है। ज्यादा गंभीर मामलों में प्रशासन की ओर से मरीज को श्रीनगर रेफर किया जा रहा है, जबकि सामान्य मरीजों का ईलाज जिले के कोटेश्वर में चल रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अगस्त्यमुनि में एक कर्मचारी के कोरोना पाॅजिटिव आने से अस्पताल में हड़कम्प मच गया। कर्मचारी को रूद्रप्रयाग आइसोलेशन में भेज दिया गया हैं, जबकि अन्य सभी कर्मचारियों की कोरोना जांच के लिए सैम्पलिंग की गई है तथा उन्हें रिपोर्ट आने तक होम क्वारनटाइन में रहने को कहा गया है। अस्पताल को पूर्ण रूप से सेनिटाइज किया जा रहा है तथा एहतियात के लिए अस्पताल को दो दिनों के लिए बन्द कर दिया गया है। अस्पताल में ओपीडी के साथ ही अन्य सेवायें बन्द रहेंगी।
वहीं सिल्ली बाजार स्थित एक शिक्षक की तबियत खराब होने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अगस्तयमुनि में चेकअप के लिए लाया गया था, जिसका एन्टीजेन पाॅजिटिव आने के बाद शिक्षक को रूद्रप्रयाग आइसोलशन में भेज दिया गया। वहीं शिक्षक के परिजनों के साथ ही सिल्ली की जनता के भी कोविड 19 सैम्पल लिए गये। जिसमें शिक्षक की पत्नी, पुत्र एवं पुत्री भी पाॅजिटिव आये हैं, जिन्हें भी रुद्रप्रयाग आइसोलेेशन में ले जाया गया। जहां स्वास्थ्य में सुधार आने के बाद शिक्षक एवं परिजनों को होम आइसोलेशन में सिल्ली में ही अपने घर पर रखा गया है। जिसके बाद प्रशासन ने सिल्ली में शिक्षक के घर के चारों ओर के मकानों को मिनी कन्टेनमेण्ट जोन घोषित करते हुए उनमें रहने वाले परिवारों को घर में ही रहने की सलाह दी है। इधर, तहसील जखोली के अंतर्गत सुमाडी कस्बे में नौ व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे में प्रशासन द्वारा इस क्षेत्र को मिनी कंटेन्मेंट क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। इसके साथ ही यहां पर आवागमन को भी पूरी तरह से प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया गया है। वहीं जिलाधिकारी वंदना सिंह ने कहा कि नगर पालिका रुद्रप्रयाग के वार्डो में एहतियात के तौर पर सैम्पलिंग लेने पर कोरोना पाॅजीटिव के केस मिले हैं। इसके साथ ही आर्मी केंट में भी केस मिले हैं। अगस्त्यमुनि क्षेत्र में भी लगातार सैम्पलिंग लिए जा रहे हैं और यहां पर कन्टेनमेन जोन घोषित किया गया है और जो लोग पाॅजिटिव आये हैं उन्हें घर में रहने की सलाह दी गई है। जिले में चरणबद्ध तरीके से टेस्ट किये जा रहे हैं। वर्तमान में 141 केस रिलीफ किये गये हैं और 38 केस आर्मी के आए थे। जिनका ट्रीटमेंट आर्मी अस्पताल देहरादून में चल रहा है। सामान्य स्थिति वाले मरीजों को कोटेश्वर में रखा गया है, जबकि गंभीर मामलों में तीन केस श्रीनगर को रेफर किये गये हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles