बाबा की कंपनी के नाम से रखा जा सकता है आईपीएल टूर्नामेंट का नाम, ,चीन की कम्पनी विवो को कर दिया था बाहर

बाबा की कंपनी के नाम से रखा जा सकता है आईपीएल टूर्नामेंट का नाम, ,चीन की कम्पनी विवो को कर दिया था बाहर
0 0
Read Time:2 Minute, 39 Second

बाबा की कंपनी के नाम से रखा जा सकता है आईपीएल टूर्नामेंट का नाम, ,चीन की कम्पनी विवो को कर दिया था बाहर

बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद कंपनी आगामी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के टाइटल स्पॉन्सरशिप यानी टूर्नामेंट का नाम अपने नाम से लिखाने के लिए के लिए बोली लगाने पर विचार कर रही है। चीनी हैंडसेट निर्माता वीवो द्वारा इससे बाहर निकलने का फैसला करने के बाद आईपीएल के शीर्षक प्रायोजन का स्लॉट खाली कर दिया गया था।

यह कदम हरिद्वार स्थित फर्म को वैश्विक विपणन मंच तक पहुंचने में मदद करेगा, क्योंकि पतंजलि अपने आयुर्वेद आधारित एफएमसीजी उत्पादों के निर्यात पर ध्यान केंद्रित कर रही है। पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा है: “हम इस पर विचार कर रहे हैं”। उन्होंने कहा, “यह वोकल फॉर लोकल के लिए है और एक भारतीय ब्रांड को वैश्विक बनाने के लिए, यह सही मंच है। हम उस परिप्रेक्ष्य में विचार कर रहे हैं। हालांकि, तिजारावाला ने यह भी कहा कि कंपनी को इस मुद्दे पर अंतिम फैसला लेना बाकी है।

उनके अनुसार, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) सोमवार को इस प्रस्ताव के साथ आया है और उसे 14 अगस्त तक हमें जवाब देना है। पिछले हफ्ते, बीसीसीआई और विवो ने चीन-भारत सीमा विवाद के मद्देनजर यूएई में 19 सितंबर से शुरू होने वाले 2020 IPL के लिए अपनी साझेदारी को निलंबित करने का फैसला किया था। विवो ने 2018 से 2022 तक 2,190 करोड़ रुपये की अनुमानित राशि, लगभग 440 करोड़ रुपये प्रति वर्ष के लिए आईपीएल का स्पॉन्शशिप टाइटल अधिकार जीता था। हरिद्वार स्थित पतंजलि समूह का अनुमानित कारोबार लगभग 10,500 करोड़ रुपये है। पतंजलि आयुर्वेद ने वित्त वर्ष 2018-19 में 8,329 करोड़ रुपये की कमाई की थी।
——

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles