रिया के मीडिया ट्रायल के लोगों ने लिए खूब लिए चटकारे, टीआरपी के रिकॉर्ड ध्वस्त, कंगना पर भी दर्शक फिदा

रिया के मीडिया ट्रायल के लोगों ने लिए खूब लिए चटकारे, टीआरपी के रिकॉर्ड ध्वस्त, कंगना पर भी दर्शक फिदा
0 0
Read Time:4 Minute, 37 Second

रिया के मीडिया ट्रायल के लोगों ने लिए खूब लिए चटकारे, टीआरपी के रिकॉर्ड ध्वस्त, कंगना पर भी दर्शक फिदा

जो लोग कह रहे हैं कि हमारे मीडिया न्यूज़ चैनल वालों को क्या हो गया है, वह क्या बकवास दिखा रहे हैं और पिछले कई दिनों से रिया के पीछे पड़ गए हैं और कंगना की हर बात पर जमीन आसमान एक कर के बैठे हैं।

सुशांत को “न्याय” दिलाने वाले चैनलों के साथ दर्शक

वे यह भी जान ले कि पिछले दिनों से लोग आखिर क्या देखना पसंद कर रहे हैं। जो लोग देखना चाहते हैं न्यूज़ चैनल वही दिखाते हैं। टीआरपी रेटिंग दिखाती है कि पिछले कुछ हफ्ते से रिपब्लिक टीवी, रिपब्लिक भारत, टाइम्स नाउ और आज तक सबसे ज्यादा देखे जाने वाले न्यूज़ चैनल थे। न्यूज एक्स और एनडीटीवी जैसे चैनलों ने सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने के नाम पर लगातार टीवी कवरेज नहीं की तो दर्शकों ने उन्हें भी भाव नहीं दिया। टीआरपी रेटिंग इनकी निचली पायदान पर रही।

यह चैनल क्या दिखा रहे थे, यह चैनल रिया चक्रवर्ती की नारकोटिक्स ब्यूरो के दफ्तर पर हो रही बार-बार पेशी से लेकर कंगना रनौत के ट्वीट दर ट्वीट पर बखेड़ा खड़ा कर रहे थे।

सुबह 9 से रात 11 बजे तक तीन दिन सिर्फ रिया

यह चैनल #justice for Sushant पर पिछले 2 महीने से अभियान चला रहे हैं। टीवी चैनलों पर जस्टिस फॉर सुशांत मुद्दे पर बिना रुके लगातार टीवी कवरेज हो रही है। जिन 3 दिनों में नारकोटिक ब्यूरो ने रिया से पूछताछ की, उन 3 दिनों में रिया के घर से शुरू हुई सुबह 9:00 बजे से टीवी कवरेज रात 11:00 बजे तक 14 घंटे लगातार दिखाई गई और बड़ी संख्या में लाखों दर्शकों ने इसे बहुत ज्यादा पसंद किया।

हां अब आलोचक यह जरूर कह सकते हैं कि जब देश कोरोना वायरस के 45 लाख के करीब मामलों से जूझ रहा है। जीडीपी करीब 23 फ़ीसदी के करीब गिर चुकी है। नौकरियों का नुकसान हो गया है। लोगों की सैलरी कट रही है। तब ऐसे समय में टीवी न्यूज़ चैनल रिया चक्रवर्ती को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने के लिए जी जान से जुट गए हैं और कंगना रनौत को दुनिया की सबसे बहादुर महिला बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे।

लेकिन टीआरपी के आंकड़े को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता जो यह साबित करते हैं कि लोग यह देखना पसंद करते हैं।

बॉलीवुड मसाले के सामने बेरोजगारी, जीडीपी गई तेल लेने

टीवी चैनलों से जुड़े कई वरिष्ठ एक्सपर्ट और रिपोर्टर मानते हैं की टीवी न्यूज़ चैनल सिर्फ अपनी मर्जी से यहां इसी सरकार या किसी एक पार्टी के दबाव में आकर यह सब नहीं दिखा रहे हैं बल्कि टीवी रेटिंग उनको यह दिखाने के लिए मजबूर कर रही है जो यह दर्शाती है कि लोग मसाला मनोरंजन पसंद करते हैं और सुशांत सिंह राजपूत, रिया और कंगना रनौत इस पूरे मसाले मनोरंजन पर फिट बैठते हैं।

कोरोना से दुखी जनता मांगती है मजा

टीवी एक्सपर्ट का तो यह भी कहना है कि लोग कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ रहे मामलों और लॉकडाउन की पाबंदियों से घर पर बैठकर तंग आ चुके हैं। उनका दिमाग खराब हो रहा है और ऐसे में वह कोरोना को भूलकर कुछ मसालेदार देखना पसंद कर रहे हैं और बॉलीवुड के तड़के से ज्यादा और क्या मसालेदार होगा।


Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social profiles